Prabhat Books
Prabhat Books

संपादकीय

मोदी की दिग्विजय : पाँच राज्यों के चुनाव
हाल ही में पाँच राज्यों उत्तर प्रदेश, पंजाब, उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर की विधानसभाओं के चुनाव संपन्न हो गए। ...और आगे

प्रतिस्मृति

बालमुकुंद गुप्त
अपने पहले लेख में मैंने कालाकांकर नरेश राजा रामपाल सिंह के संस्मरणों को लिखा था, ...और आगे

लघुकथा

प्रायश्चित्त
नर्मदा नदी के किनारे पर बसे रामपुर नामक गाँव में रामदास नाम का एक संपन्न कृषक अपने दो पुत्रों के साथ रहता था। ...और आगे

आलेख

सपनों का प्रतीकात्मक अर्थ सपनों का प्रतीकात्मक अर्थ
प्रतीक एक ऐसी प्रेषण प्रक्रिया है, जिसके द्वारा प्रस्तुत सत्य के आधार पर किसी समतुल्य अप्रस्तुत सत्य का भाव संपे्रषण अथवा प्रत्यक्षीकरण होता है। ...और आगे

कहानी

मँझले मँझले
"इस कपूत ने तो मेरा जीना हराम कर दिया। मरै न माचौ लेय। जब देखों तब कोई-न-कोई इसकी शिकायत लिए खड़ा है दरवाजे पर।" ...और आगे

राम झरोखे बैठ के

बाबू की बीमारी बाबू की बीमारी
वह बीमार है। साँस फूलती है। कुछ भी हजम नहीं होता है। पर सबको निर्देश है। ...और आगे

ललित निबंध

जियबो मीत पुनीत बिनु जियबो मीत पुनीत बिनु
व्यापक अर्थ में देखें तो परिवारजनों और संबंधियों को छोड़कर अन्य सभी परिचित जन मित्र ही कहे जाएँगे। ...और आगे

कविता

उषा गीत
पेड़ों पर गूँज उठा पक्षियों का शोर, रात कटी अँधियारी निकल आई भोर। ...और आगे

यात्रा-वृत्तांत

एक तीर्थयात्रा सुवर्णपुर (पर्सा) व जनकपुर एक तीर्थयात्रा सुवर्णपुर (पर्सा) व जनकपुर
अपने देश व दुनिया को देखने की उत्कट अभिलाषा सदा ही मुझमें हिलोरें लेती रहती है। ...और आगे

साहित्य का विश्व परिपार्श्व

संगीतकार जेनको
दुनिया में वह पतला-दुबला आया था। चारपाई के इर्दगिर्द खड़े पड़ोसियों ने माँ और बच्चे को देखकर अपने सिर हिलाए। ...और आगे

साहित्य का भारतीय परिपार्श्व

पिंजर
उस दिन अमरीका में 'राष्ट्रपति दिवस' मनाया जा रहा था। जगह-जगह जश्न हो रहे थे। ...और आगे

लोक-साहित्य

महाराष्ट्र का नवसंवत्-उत्सव : गुड़ी पड़वा महाराष्ट्र का नवसंवत्-उत्सव : गुड़ी पड़वा
भारतभर में गुड़ी पड़वा विक्रम संवत् का प्रारंभ दिवस है। धर्म-कर्म सभी का शुभारंभ दिवस। ...और आगे

व्यंग्य

चलो, चलें लालकिला मैदान चलो, चलें लालकिला मैदान
दिल्ली का नाम आते ही मस्तिष्कि के मानचित्र पर लालकिला उभरता है और लालकिले के उभरते ही दिखता है ...और आगे

पुस्तक-अंश

नवदुर्गा
हिंदू धर्मावलंबियों में माँ भगवती दुर्गा की पूजा-आराधना का विशेष महत्त्व है। माँ दुर्गा के अनंत रूप हैं। ...और आगे