Prabhat Books
Prabhat Books

संपादकीय

राजनेताओं की नैतिकता?
१५ अगस्त प्रतिवर्ष पूरे देश में स्वतंत्रता दिवस के रूप में बड़े उत्साह और उल्लास के साथ आयोजित होता है। ...और आगे

प्रतिस्मृति

प्रादेशिक भाषाओं की पालना हिंदी से ही संभव प्रादेशिक भाषाओं की पालना हिंदी से ही संभव
मुझको बहुत लोग जानते हैं कि मैं वाचाल हूँ, लेकिन मुझको जब काम पड़ता है तो मैं देखता हूँ कि मेरी वाणी रुक जाती है। ...और आगे

आलेख

अमरीका में हिंदी की दशा एवं दिशा अमरीका में हिंदी की दशा एवं दिशा
मैं दिल्ली शहर में पली-बढ़ी, इसलिए हिंदी बोलना स्वाभाविक था, लेकिन हिंदी भाषा के प्रति प्रेम विरासत में मिला। ...और आगे

स्‍मरण्‍ा

नर्मदापुत्र अमृतलाल वेगड़ नर्मदापुत्र अमृतलाल वेगड़
६ जुलाई, २०१८ को ९० वर्ष की आयु में अमृतलाल वेगड़जी का जबलपुर में निधन हो गया, मध्य प्रदेश के लिए यह अपूरणीय क्षति है। ...और आगे

राम झरोखे बैठ के

देश का नया सामान्य देश का नया सामान्य
कभी हर शहर के कहवाघर, ज्ञान-वितरण के केंद्र और बौद्धिक चर्चा तथा नई-नई अफवाहों के जाने-माने प्रसूति घर का दर्जा रखते थे। ...और आगे